बिजनिस फंडिंग आखिर क्यों होती है जरुरी, क्या आपको यह पता है

Published By : Priyanshu Sharma

स्टार्टअप्स के लिए बिजनिस फंडिंग एक जीवनदान का काम करती करती है 

फंडिंग की मदद से कोई भी बिजनिस अपने आप को अपग्रेड करने का काम करता है 

अधिक मार्केटिंग के लिए एक बजट के जरूत होती है जो उद्योग को फंडिंग से ही मिलता है 

आपको बता दे की फंडिंग की जरुरत करीब 90 प्रतिशत स्टार्टअप्स को पड़ती ही है। 

चलिए अब आपको भारत के कुछ ऐसे स्टार्टअप्स बताते है जो की फंडिंग के बाद से ही अच्छा कार्य कर रहे है। 

6 स्टार्टअप्स द्वारा फंडिंग प्राप्त करने के बाद अंततः बोट ने बाज़ारों पर कब्ज़ा कर लिया है। 

पेटीएम मुख्य रूप से सैफ पैटर्स, सॉफ्टबैंक और  कई निवेशकों द्वारा वित्त पोषित है, एक लोकप्रिय भारतीय स्टार्टअप बन गया है।

मीशो कम दर वाले सौदों के लिए लोकप्रिय है और इसलिए कंपनी को 37 निवेशकों द्वारा वित्त पोषित किया जाता है।

Join Now