Sahara India New News 2023 : Subrata Roy सहारा की मौत पर सीबीआई जांच की मांग करते देश के एनजीओ

सहारा प्रमुख सुब्रता रॉय की मौत के बाद अब इस संगठन ने उठाई सीबीआई जांच की मांग क्योकि लाखो करोडो के घपलो का पेंडिंग था मामला।

3
Subrata Roy Demise सहारा की मौत पर सीबीआई जांच की मांग करते देश के एनजीओ

Sahara India Case News : सहारा प्रमुख सुब्रता रॉय सहारा की मौत को लगभग पांच दिन बीत चुके है परंतु उनकी इतनी जल्दी दुखद मृत्यु हो जाएगी यह किसी को भी नहीं पता था चाहे वह सहारा मैनेजमेंट हो या सुब्रता का परिवार बताया यह भी जाता है की सहारा ने Rs 2000 की पूंजी से सहारा की शुरुवात की थी जो आज एक बिशाल कंपनी के रूप में स्थापित है। आपको बता दे की सहारा इंडिया के नाम से आज कई सारे विलासिता होटल, करीब 5000 से ज्यादा लोकल ऑफिस यूनिट, सहारा अम्बे वैली जैसे कई जमीने सहित अन्य – अन्य विलासिता मौजूद है।

अब इतने बड़े साम्राज्य को अकेले में छोड़ गए सहारा प्रमुख के बाद इतने बड़े साम्राज्य को कौन संभालेगा वही सुब्रता के दो सुपुत्र है परन्तु भारत में चल रहे कोर्ट केस के चक्कर में सुब्रता के जो बेटे अपने पिताजी को मुख्याग्नि तक देने नहीं आये वह निवेशकों के पैसे रिफंड करने के लिए आखिर क्यों देश में आएंगे। आपको बता दे की सहारा प्रमुख के जीवन के करीब 14 साल कोर्ट केस की दलीले लड़ते – लड़ते कब निकल गए पता ही नहीं चला वही सुब्रता पर कई घोटालो के आरोप थे जिनको कोर्ट द्वारा अब सिद्ध भी किया जा चूका है।

Read More : MP का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा, देखिये EXIT POLL के नतीजे

सहारा इंडिया की करोडो की जमीने

सहारा प्रमुख सुब्रता की करीब 500 से अधिक कंपनी भारत में संचालित है वही इन कंपनी में अलग – अलग स्कीम भी मौजूद है वही केवल बैंकिंग ही नहीं हॉस्पिटैलिटी, एंटरटेनमेंट सहित अलग – अलग इंडस्ट्री में सहारा का बिशाल परिवार फैला हुआ है वही आपको बता दे की फाइनेंस सेक्टर में सहारा इंडिया पर दो सबसे बड़ी देनदारियां सहारा सेबी केस के बचे पैसे समेत सहारा ग्रुप की चार सहकारी समितियों के निवेशकों के बकाया Rs 87,000 करोड़ रूपये एवं सहारा क्यू शॉप का रिफंड।

सहारा दुसरो के पैसे पर काम करने में उस्ताद थे तभी तो सहारा सेबी केस शुरू होने के उपरांत उन्होंने सहारा में कन्वर्शन करने की घोषणा की थी आपको बता दे की जैसलमेर से एक सहारा के फील्ड वर्कर ने हमारे मीडिया सलाहकार से बातचीत में बताया की जिस समय सहारा सेबी केस की घोषणा जैसे ही हुई उसी समय सहारा मालिक सुब्रत राय सहारा ने कंपनी के सभी फील्ड वर्कर को मार्केट में उतरने के लिए कहा एवं कंपनी द्वारा बताया गया कि जितने भी निवेशकों का पैसा सहारा इंडिया की रियल एस्टेट कॉरपोरेशन लिमिटेड (SIRECL) और सहारा इंडिया हाउसिंग फाइनेंस कॉरपोरेशन लिमिटेड (SIHCL) में लगा है उनको तुरंत वह लोग सहारा इंडिया की सहकारी समितियां में जमा कर दें। इससे निवेशकों को भी फायदा होगा क्योंकि उस समय सहारा इंडिया की सहकारी समितिया उन पुरानी स्कीमों से डबल ब्याज बता रही थी। इसी के साथ एजेंट को भी बड़ा लालच देते हुए सहारा इंडिया ने बड़े कमीशन का मुनाफा देने की बात कही थी। आपको बता दे कि उस समय एजेंट बड़े कमीशम के माध्यम से फिसल गया था जबकि निवेशक को ब्याज दिख रहा था और सहारा पर बना विश्वास तो था ही जिसके बलबूते पर सहारा इंडिया की सहकारी समितियां में पूरे सहारा इंडिया की वह पुरानी दो स्कीमों के पैसे को डायवर्टेड कर दिया गया था। 

Abhay Dev Shukl President of all india jan andolan nyay morcha

सुब्रत राय सहारा की मौत पर क्या बोला देश का गैर क़ानूनी संगठन

दा हिंदू को दिए गए एक बयान में संयुक्त ऑल इंडिया जन आंदोलन संघर्ष न्याय मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अभय देव शुक्ला ने सहारा इंडिया के मालिक सुब्रत राय सहारा समेत उनकी पत्नी स्वप्ना रॉय सहारा पर गंभीर आरोप लगाते हुए बताया कि सहारा प्रमुख सुब्रत रॉय सहारा ने सहारा इंडिया की चार सहकारी समितियां में जो निवेशकों का पैसा जमा कराया था उसको बिन वापस किए ही सहारा कैसे जा सकते हैं। शुक्ला जी ने अपने बयान में यह भी बताया कि सहारा इंडिया की चार सहकारी समितियां में निवेशकों का करीब RS 86,600 करोड रुपए बकाया है। इसी के साथ सहारा क्यू शॉप नामक स्कीम में भी कई निवेशकों का पैसा निवेश है वही सहारा इंडिया परिवार ने अभी तक निवेशकों के रिफंड पर एक भी स्टेटमेंट जारी नहीं किया है इसी के साथ उन्होंने सहारा मलिक पर भी कई सारे गंभीर आरोप लगाए है।

संयुक्त जन आंदोलन संघर्ष न्याय मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने यह भी बताया कि उन्होंने कुछ साल पहले सहारा इंडिया केलखनऊ कार्यालय के सामने धरना प्रदर्शन दिया था वही धरना प्रदर्शन के लिए दो-तीन दिन पहले से वीडियो आना शुरू हो जाते हैं. इसके उपरांत सहारा को इस बारे में पता चल गया था तभी सहारा श्री सुब्रत रॉय ने खुद के घर के आगे बड़ी तादाद में पुलिस फोर्स भी लगवा दी थी और निवेशको को उनकी बात रखने का मौका भी नहीं दिया गया था। इसी के साथ शुक्ला ने सुब्रता राय की मौत पर भी अपना शक जाहिर करते हुए कहा कि सहारा प्रमुख की मौत के उपरांत भी उनके चेहरे को सामने नहीं लाया गया वहीं कंपनी प्रमुख सुब्रतो रॉय सहारा क्या असल में हमारे बीच नहीं हैं इस चीज का भी कोई सबूत सहारा के द्वारा नहीं दिया गया हैवहीं इस मामले में माननीय प्रधानमंत्री महोदय सेहमारे संगठन का निवेदन है वही इस मामले में एक सीबीआई टीम गठित कर जांच करने के आदेश देने चाहिए ताकि सहारा के करोड़ों निवेशक जो आज परेशान है उनका उनका पैसा पूरे हक के साथ वापस मिल सके।

Read More : Sahara Sebi Case 2023 : सहारा सेबी केस और सुब्रत रॉय पर आया सेबी का प्रमुख बयान

राष्ट्रीय अध्यक्ष शुक्ल द्वारा सीबीआई टीम गठित कर जांच करने के आदेश को लेकर इसीलिए बोला जा रहा है क्योंकि सहारा श्री सुब्रत राय पर पिछले लंबे समय से कई मामले पंजीकृत थे वहीं संगठन को शक यह हो रहा है की कही इन कोर्ट केस से बचने के लिए सुब्रत रॉय को भी तो सरकार और सहारा ने मेसिडोनिया तो नहीं भेज दिया है। जिसके कारण अब सीबीआई जांच करने के आदेश के लिए संगठन मांग कर रहा है। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी से भी इस मामले में जल्द संज्ञान लेने की बात संगठन द्वारा अपील के माध्यम से दर्ज कराई गई है.

 

3 COMMENTS

  1. Thank you for sharing this insightful and well-organized blog post. The information you presented was clear and concise, and I appreciated the additional resources you provided for further exploration. To explore more, click here.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here