Mukhtar Ansari आखिर कौन था और उसने क्या Crime किये थे, जाने खबर में सब कुछ हिंदी में

कृष्णानंद राय की पत्नी अलका राय की ओर से जारी एक स्टेटमेंट में उन्होंने बताया है कि कृष्णानंद राय के बेटे ने उनकी मौत से होली का त्यौहार नहीं बनाया है क्योंकि उसके पिता का मर्डर होली के त्यौहार की आड़ में ही किया गया था।

0

डेस्क रिपोर्ट, क्राइम : मुख़्तार अंसारी जिसको माफिया के नाम से भी बोला जाता था आज हमारे बीच नहीं रहा है जानकारी है की अंसारी की मृत्यु 60 बर्ष की आयु में बाँदा उत्तर प्रदेश में कार्डियक अरेस्ट की बीमारी के चलते हुई है आपको बता दे की अंसारी पेशे से एक पोलोटिशन और एक गुंडा हुआ करता था वही चुनावी दौर में अंसारी का काफी बोलबाला था वही वह मऊ से बहुजन समाज पार्टी के लिए 5 बार सांसद भी रह चूका था पर कहते है न की “इस जीवन के कर्म (गलत/सही) इसी जीवन में चुकाना पड़ता है” वही अब अंसारी के साथ भी हुआ है।

Mukhtar Ansari Wikepedia In Hindi

नाम मुख़्तार अंसारी
पिता का नाम सुब्हानल्लाह अंसारी
बच्चे 2
जन्म दिवस एवं जगह 30 June 1963 Ghazipur U.P
पोलिटिकल पार्टी का नाम बहुजन समाज पार्टी
पत्नी अफ़सा अंसारी
मृत्यु का दिनांक 28 March 2024
मृत्यु का स्थान बाँदा शहर, उत्तर प्रदेश भारत

 

Read More : आखिर कौन है Gangstar Mukhtar Ansari और क्या था उसका अपराध



बचपन में ही शुरू करदी थी मारा मारी

यह बात 1990 की है जब भारत सरकार के इलेक्शन कमीशन ने पूर्वांचल के हिस्से में अलग-अलग डेवलपमेंट प्रोजेक्ट चालू किए थे वही उस समय मुख़्तार अंसारी मकानु सिंह की गैंग में कार्यकर्ता था तभी एक जमीन के हिस्से के लिए दो गैंग में जमकर बहस हुई थी वही उस मामले में गुस्सा जब और बढ़ गया जब अंसारी की गैंग ने साहिब सिंह की गैंग पर हमला कर दिया था वही उस समय दोनों पक्षों में जमकर युद्ध हुआ जिसका नतीजा केवल खून खराबा निकला।

इस घटना के बाद साहब सिंह की गैंग के एक कार्यकर्ता बृजेश सिंह ने अपनी अलग गैंग बनाकर गाजीपुर कॉन्ट्रैक्ट वर्क में अपनी हिस्सेदारी जमा ली थी वही उस समय मुख़्तार अंसारी करीब 100 करोड़ के कॉन्ट्रैक्ट के लिए कोल माइनिंग, कंस्ट्रक्शन समेत अन्य बिजनेस में अपने पैर जमाना शुरू कर दिए थे इसी के साथ कई सारे मुख्य रूप से वह अपना कार्य किया करता था।

Read More : Sahara India News : एक समय सहारा इंडिया कंपनी में काम करने वाले रमेश अवस्थी को भाजपा ने दिया टिकट, सहारा निवेशक आज भी पैसे की तलाश में



वाराणसी कोर्ट ने सुनाई थी उम्रकैद की सजा

गैंगस्टर मुख्तार अंसारी को बनारसी कोर्ट ने उम्र कैद की सजा सुनाई थी वहीं मुख्तार अंसारी गैंगस्टर से एक पॉलिटिशियन बन चुका था वही उसको जमीन पर लाने का काम भारत की न्याय अदालत ने ही किया था इसी के साथ सन 1991 में अवधेश राय के मर्डर में भी मुख्तार अंसारी का हाथ था। जानकारी है कि मुक्ततार अंसारी ने अब अवधेश राय का मर्डर 3 अगस्त 1991 को किया था इसी के साथ मुख्तार अंसारी एक मीडिया इनफ्लुएंसर भी बन चुका था इसी के साथ गाजीपुर में भी वह काफी ज्यादा लोगों का पसंदीदा बन चुका था।



बीजेपी के MLA का किया था मर्डर

मुख्तार अंसारी पर सबसे बड़ा अपराध बीजेपी एमएलए के मर्डर केस से जुड़ा हुआ है, जानकारी के अनुसार खाने में जहर देकर कृष्णानंद राय की हत्या की गई थी जिसमें मुख्तार अंसारी का साफ तरीके से हाथ था जिसके अपराध के चलते वाराणसी कोर्ट ने मुख्तार अंसारी को 10 साल की सजा सुनाई थी इसी के साथ आर्म्स लाइसेंस मिलने के अपराध में भी मुख़्तार पर कई चार्ज लगाए गए थे।

कृष्णानंद राय की पत्नी अलका राय की ओर से जारी एक स्टेटमेंट में उन्होंने बताया है कि कृष्णानंद राय के बेटे ने उनकी मौत से होली का त्यौहार नहीं बनाया है क्योंकि उसके पिता का मर्डर होली के त्यौहार की आड़ में ही किया गया था।



बहुजन समाज पार्टी ने मांगी इन्वेस्टीगेशन की मांग

बहुजन समाज पार्टी की चीफ मायावती ने गैंगस्टर मुख़्तार अंसारी की मौत पर हाई लेवल इन्वेस्टीगेशन की मांग की है क्योकि बिपक्ष का पूर्ण रूप से आरोप है की मुख़्तार को जेल में मरवाया गया है जिसपर लगातार बिपक्ष मामले में उच्च जांच की मांग कर रहा है।




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here